choose your color

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने असम में ब्रह्मपुत्र नदी पर बने देश के सबसे लम्‍बे रेल-सड़क पुल बोगीबील का उद्घाटन किया

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने असम में ब्रह्मपुत्र नदी पर बने देश के सबसे लम्‍बे रेल-सड़क पुल बोगीबील का उद्घाटन किया

[vc_row][vc_column][vc_column_text]

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने असम में ब्रह्मपुत्र नदी पर बने देश के सबसे लम्‍बे रेल-सड़क पुल बोगीबील का उद्घाटन किया

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज असम में ब्रह्मपुत्र नदी पर बने देश के सबसे लम्‍बे रेल-सड़क पुल बोगीबील का उद्घाटन किया।
  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी पुल पर चलने वाली पहली यात्री रेलगाड़ी तिनसुकिया-नाहरलगुन इंटरसिटी एक्‍सप्रेस को झंडी दिखाकर रवाना किया। 
  • चार दशमलव नौ किलोमीटर लम्‍बे इस पुल के लोअर डेक पर दो लाइन की रेल पटरी और टॉप डेक पर तीन लेन की सड़क है।
  • लगभग उनसठ सौ करोड़ रुपये की लागत से बना यह पुल असम के डिब्रूगढ़ के 17 किलोमीटर निचले भाग में स्थित है। इसके एक सौ बीस वर्ष तक सेवा देने का अनुमान है।

एशिया का यह दूसरा सबसे बड़ा रेल और सड़क पुल देश के पूर्वोत्तर इलाके की जीवनरेखा साबित होगा और इससे ब्रह्मपुत्र नदी के दक्षिणी और उत्तरी छोर के बीच संपर्क कायम होगा। इससे उत्तरी असम, अरुणाचल प्रदेश और नगालैंड के आर्थिक विकास को भी बढ़ावा मिलेगा। इस पुल के भारत के पूर्वोत्तर क्षेत्र में सैनिकों और उनके साजसामान को एक जगह से दूसरी जगह शीघ्रता से ले जाया जा सकेगा। परियोजना के सामरिक महत्व को देखते हुए केंद्र सरकार ने इस पुल के निर्माण को 2007 में राष्ट्रीय परियोजना घोषित किया था। इसके शुरू होने से सड़क और रेल यात्रा दोनों में समय की बचत होगी। 
ब्रिज का सबसे बड़ा खूबी यह है कि यह पूरी तरह से वेलिड स्ट्रक्चर है जो इंडिया में इतना लंबा रोड इंडिया में कभी नहीं बना। जो ब्रिज का वेलिड स्ट्रक्चर कंपोजिट डिजायन होने से हमारा 20 प्रतिशत करीब इसका बचत हुआ लागत में। इस ब्रिज में हमने कोई रिबेट बोल्ड यूज नहीं किया, पूरा बेल्ड है इसलिए मैंटिनेंस फ्री है। भूकंप के नजरिए से एक जो डिजायन रिक्वारमेंट है उन सबको पूरा करते हुए ब्रिज का डिजायन किया गया और बनाया गया है। [/vc_column_text][/vc_column][/vc_row]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Rating*

WhatsApp chat